Breaking News
Home / खबरे / उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और मैनपुरी का बदला गया नाम, अब यह होंगे नए नाम

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और मैनपुरी का बदला गया नाम, अब यह होंगे नए नाम

प्रदेश में एक बार फिर से गांव और शहरों का नाम बदलने का सिलसिला शुरू हो गया है। हाल ही में यूपी के अलीगढ़ का नाम बदलकर हरी गढ़ और मैनपुरी का नाम बदलकर मयन नगर कर दिया गया है। आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि मैनपुरी और अलीगढ़ का नाम बदलने के लिए जिला पंचायत में प्रस्ताव रखा गया था जो कि जिला पंचायत मैं पास हो गया है। अब का फैसला सरकार के ऊपर है कि वह कब तक इसको पास करेगी और आगे क्या प्रक्रिया और प्रावधान है। जानकारी के लिए आपको बताना चाहेंगे कि हाल ही में फिरोजाबाद का नाम बदलकर चंद्रनगर कर दिया गया था।

अलीगढ़ जिला पंचायत में हुई बैठक

अलीगढ़ का नाम बदलने के लिए अलीगढ़ जिला पंचायत में एक बैठक का आयोजन किया गया था। जिला पंचायत की बैठक में बिजौली ब्लॉक के प्रमुख उमेश यादव और अतरौली प्रमुख केसरी सिंह की ओर से अलीगढ़ का नाम बदलने का प्रस्ताव जिला पंचायत में रखा गया था। दोनों का कहना था कि अलीगढ़ का पहले का नाम हरी गढ़ था और इसको पुणे में बदलकर हरिगढ़ कर दिया जाना चाहिए। पंचायत में काफी देर तक चर्चा होने के बाद इस प्रस्ताव को पारित कर दिया गया। के अलावा भी धनीपुर हवाई पट्टी का नाम बदलने का प्रस्ताव रखा गया था इसका नाम पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के नाम पर रखने का प्रस्ताव रखा गया था जो कि पंचायत में सबकी सहमति से पारित कर दिया गया।

मैनपुरी जिला पंचायत का भी बदला गया

अलीगढ़ के साथ-साथ मैनपुरी के जिला पंचायत में भी मुन्ना भदौरिया की अध्यक्षता में बैठक हुई जिसमें मैनपुरी का नाम बदलकर मै मयन पुरी करने का प्रस्ताव रखा गया था। आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि यह प्रस्ताव पंचायत समिति सदस्य योगेंद्र प्रताप की तरफ से रखा गया था। प्रस्ताव पर काफी देर चर्चा करने के बाद मैनपुरी का भी नाम बदलकर मयनपूरी कर दिया गया। जानकारी के अनुसार पता चला है कि मैनपुरी का पहले नाम अपभ्रंश था।

अलीगढ़ और मैनपुरी से पहले फिरोजाबाद का भी नाम बदला गया

सब जानकारी के अनुसार और मैनपुरी से पहले फिरोजाबाद का भी नाम बदलने का प्रस्ताव रखा गया था जो कि पंचायत में पारित हो गया। फिरोजाबाद का नाम बदर कर चंद्र नगर करने का प्रस्ताव जिला पंचायत में रखा गया था। जिसको सबकी सहमति के बाद पारित कर दिया गया। अग्रिम फैसला उत्तर प्रदेश की सरकार को करना है अब देखना यह होगा कि इस सब पर उत्तर प्रदेश की सरकार का क्या रुख रहेगा और कब तक इन सबके नाम अधिकारिक तौर पर बदल दिए जाएंगे।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.