Breaking News
Home / खबरे / ससुराल से परेशान होकर आई मुंबई आज बन चुकी है 2000 करोड की मालकिन, जाने कल्पना सरोज की दर्द भरी दास्तां

ससुराल से परेशान होकर आई मुंबई आज बन चुकी है 2000 करोड की मालकिन, जाने कल्पना सरोज की दर्द भरी दास्तां

आज आपको एक ऐसी लड़की के बारे में बताते हैं जिसकी महज 12 साल की उम्र में शादी कर दी थी। इसके बाद वह ससुराल चली गई। इस महिला के गांव में पक्के रास्ते तक नहीं थे और आज मुंबई जैसे बड़े शहर में उनकी कंपनी के नाम की रोड बनी हुई हैं। ₹2 से कम शुरू करने वाली यह महिला आज 2000 करोड़ की कंपनी की मालकिन बन चुकी है हम बात कर रहे हैं कल्पना सरोज के बारे में जिन्होंने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया है। आज आपको उनके संघर्ष के बारे में कुछ दिलचस्प बातें बताते हैं।

मात्र 12 साल की उम्र में कर दी थी शादी

कल्पना सरोज की बहुत कम उम्र में ही शादी कर दी गई थी इसके बाद वह घर का सारा काम करती थी। इसके बावजूद भी उन्हें काफी गालियां सुनने को मिलती। अगर कल्पना सरोज बचपन में अपने बालों को एक बांधती तो उनके ससुराल वाले कहते थे कि कहां नाचने जा रही हो। शादी के बाद कल्पना सरोज एक बंदिश में आ गई थी जब 6 महीने बाद उनके पापा मिलने आए तो वह बहुत रोए इसके बाद उनके पापा भी उसे देख कर रोने लगे। कल्पना सरोज ने अपने पिता से कहा कि वह एक पल भी यहां नहीं रुकना चाहती हैं इसके बाद उसे उसके पापा अपने साथ वापस घर ले गए।

कल्पना सरोज के पिता ने उन्हें कहा कि जो कुछ भी हुआ है उसे एक बुरा सपना समझकर भूल जाओ और एक नई शुरुआत करो। ससुराल वालों ने उन्हें बिल्कुल नहीं पढ़ाया था। जब वह ससुराल से पिता के साथ वापस आ गई तो पिता ने उन्हें पढ़ाया और समाज में लोगों ने काफी बातें कि इसके बावजूद भी उसके पिता ने हमेशा साथ दिया। लोगों के ताने सुन सुनकर वह नौकरी ढूंढने के प्रयास में घर से निकल आई।

मुंबई आकर करने लगी नौकरी

कल्पना सरोज अपने घर से मुंबई आ गई इसके बाद उन्हें एक कंपनी में हर महीने ₹60 मिलते थे काफी सालों तक यही चलता रहा इसके बाद कल्पना सरोज ने सरकारी पॉलिसी से ₹50000 का लोन लिया और इससे बुटीक का काम शुरू कर दिया। धीरे धीरे अशिक्षित लोगों को रोजगार देने लगी और लोगों उनसे जान पहचान करने लगे।

इसी बीच एक बार उनके दिमाग में बिल्डर बनने का ख्याल आया इसके बाद उन्होंने इसी रास्ते को चुन लिया और धीरे-धीरे आगे बढ़ती गई। उन पर बिल्डर बनने के बाद काफी जानलेवा हमला भी हुआ। इसके बाद पुलिस कमिश्नर को शिकायत कर उन्होंने खुद की सेफ्टी के लिए सिक्योरिटी भी रखी। आपको बता दें कि 2000 करोड़ की मालकिन कल्पना सरोज को पद्मश्री अवार्ड भी मिल चुका है। वह आईआईएमटी में गवर्नर भी रह चुकी हैं।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.