Breaking News
Home / खबरे / दिल्ली के बुराड़ी का 6 गज का मकान, आखिर क्यों है फिर से चर्चा में

दिल्ली के बुराड़ी का 6 गज का मकान, आखिर क्यों है फिर से चर्चा में

इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी आज बहुत आगे बढ़ चुकी है। देश-विदेश में कई ऐसी इमारतें बनी है जो हर किसी को सोचने पर मजबूर कर देती है। ऐसे नायाब इमारतों को बनाना दूरदर्शी सोच के कारण ही संभव हो सकता है। आजकल आर्किटेक्ट ऐसे ऐसे भवनों का निर्माण कर रहे हैं जो किसी महल से कम नहीं है। बहुत ही छोटी छोटी जगह में विशाल और बहु मंजिला इमारतों का निर्माण हो रहा है जो एक अच्छे इंजीनियरिंग का ही नमूना है।

6 गज मे कैसे बनाया 3 मंजिला मकान

दिल्ली के अजूबे के नाम से प्रसिद्ध एक मकान जो दिल्ली के बुराड़ी में स्थित है। आजकल फिर से चर्चा में बना हुआ है। और इसकी चर्चा का विषय इसकी बहुत कम जगह में हुई बनावट है। यह घर सिर्फ 6 गज के जमीन पर बना हुआ है। इसका निर्माण अच्छे-अच्छे आर्किटेक्ट और इंजीनियरों को भी सोचने पर मजबूर कर देता है। हर कोई इसे देखकर इसको बनाने वाले कारीगरों की तारीफ में शब्द अवश्य कहता है। दिल्ली के बुराड़ी मैं स्थित यह मकान एमसीडी द्वारा गिराए जाने की खबरों के कारण फिर से सुर्खियों में बना हुआ है।

अतिक्रमण को बताया सिर्फ अफवाह

एमसीडी द्वारा मकान को गिराए जाने की खबरें कोरी अफवाह निकली। मकान मालिक ने न्यूज़ चैनलों से बात करते हुए बताया कि मकान निर्धारित जगह पर ही बनाया हुआ है और किसी भी तरह का अतिक्रमण नहीं है। इनके पास मकान की सभी जरूरी दस्तावेज भी है। इसलिए एमसीडी द्वारा मकान को तोड़े जाने की खबर सिर्फ झूठ है मकान अभी बिल्कुल सुरक्षित है और अच्छी स्थिति में भी बना हुआ है। अभी इस घर में 5 सदस्यों का एक परिवार रहता है जो आसानी से बिना किसी परेशानी के रह रहा है।

5 सदस्य का परिवार रहता है घर में

मकान के मालिक सोनू से बातचीत में उन्होंने बताया कि अभी घर में यूपी का एक परिवार किराए पर रह रहा है। इस परिवार में 5 सदस्य हैं जो कई वर्षों से अभी तक इस घर में किराए से रह रहे हैं। उनसे पूछा गया कि इतनी छोटी जगह में कैसे रह सकते हैं तो उन्होंने बताया कि 5 सदस्य की परिवार को इस घर में रहने में कोई दिक्कत नहीं हुई। 3 बैडरूम और किचन गेस्ट रूम भी इस घर में शामिल है। इस घर में रहने वाले सभी लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया और सभी फैली हुई बीमारी से संक्रमित होने से भी बचे रहे।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.