Breaking News
Home / खबरे / इस जगह छापी जा रही अफगानिस्तान की करेंसी, जाने रुपए से कितनी कम है कीमत

इस जगह छापी जा रही अफगानिस्तान की करेंसी, जाने रुपए से कितनी कम है कीमत

हाल ही में अफगानिस्तान को लेकर काफी खबरें आ रही हैं। फिलहाल अफगानिस्तान का वजूद पूरी दुनिया के लिए एक चुनौती बना हुआ है जहां तालिबानियों ने अपना अधिकार कर लिया और हुकूमत करने का ऐलान किया है। यूएनओ ने इस मुद्दे को सुलझाने के लिए आपातकालीन बैठक भी बुलाई थी लेकिन उसका कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकला। अफगानिस्तान में फिलहाल तालिबान के कारण जान और माल का काफी नुकसान हो रहा है और अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद अफ़ग़ानिस्तान की करेंसी लगातार नीचे गिरती जा रही है। आज आपको बताते हैं कि अफगानिस्तान अपनी करेंसी कहां छपवाता है और कैसे इसकी करेंसी देश में आती है।

अफगानिस्तान में पहले चलता था अफगान रुपया अब चलता है अफगानी

अफगानिस्तान में 1925 से पहले अफगान रुपया चलता था लेकिन 1925 में इसमें बदलाव किया गया जिसका नाम अफगान नहीं रख दिया। हाल ही में अफगानिस्तान में तालिबान के अधिकार के बाद वहां की आर्थिक स्थिति और बैंकों की हालत काफी दयनीय हो गई है। स्थिति यह है कि अफगानिस्तान के राष्ट्रीय बैंक अफगानिस्तान बैंक के चेयरमैन का पद भी खाली पड़ा है क्योंकि तालिबान के डर से वह भाग गया।

इस जगह छपती हैं अफ़ग़ानिस्तान की करेंसी

अफगानिस्तान में बैंकों का नियंत्रण है वहां का राष्ट्रीय बैंक दया अफगानिस्तान बैंक करता है इसकी स्थापना सन 1939 में हुई। पूरे अफगानिस्तान की बात करें तो इसमें इस राष्ट्रीय बैंक की कुल 46 शाखाएं हैं और इसका मुख्यालय राजधानी काबुल में है। अफ़ग़ानिस्तान की करेंसी एक अफगानी से 1000 तक प्रचलित है। अफगानिस्तान अपनी करेंसी अपने देश में नहीं छापता है बल्कि दूसरे देश में छपाता है।

यहां छपती है अफगानिस्तान के साथ 140 अन्य देशों की करेंसी

अफगानिस्तान में 1 से लेकर 1000 तक अफगानी करेंसी चलती है जिसमें एक अफगानी का नोट और सिक्के दोनों हैं। आपको बता दें कि अफगानिस्तान अपने देश की करेंसी इंग्लैंड के बेसिन स्टॉप में दुनिया की सबसे बड़ी प्राइवेट करेंसी प्रिंटिंग प्रेस में छपाता है। यह कंपनी अफगानिस्तान के अलावा 140 अन्य देशों की करेंसी भी छापती है। इंग्लैंड की है प्रिंटिंग प्रेस वर्ष 2002 से अफगानिस्तान की करेंसी बना रही है इसकी शुरुआत तब के राष्ट्रपति हामिद करजई ने की थी। गौरतलब है कि 80 के दशक में अफगानिस्तान की करेंसी है रूस की एक कंपनी छापती थी।

अफगानिस्तान में यह नोट चलते हैं और रूपया के बराबर है इतनी कीमत

अफ़ग़ानिस्तान की करेंसी यूं तो इंग्लैंड की बेसिन स्टॉक में छपती है लेकिन आपको बता दें कि इसके सिक्योरिटी मार्ग बहुत अच्छे हैं इसलिए इसे नकली बनाना असंभव है। अफ़ग़ानिस्तान की करेंसी 1 5 10 50 100 500 और 1000 की मुद्रा में छपती है। भारत के ₹100 अफगानी के 115 के बराबर हैं।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.