Breaking News
Home / खबरे / 9 साल का मासूम सोता है कुत्ते के साथ फुटपात पर, मां छोड़ गई पिता है जे’ल में !

9 साल का मासूम सोता है कुत्ते के साथ फुटपात पर, मां छोड़ गई पिता है जे’ल में !

दोस्तों जैसा की आप सभी जानते होंगे की भारत में बेरोजगारी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। इस बढ़ती बेरोजगारी के कारण बहुत से युवा घर बैठे हैं। भारत की जनसंख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और हर इंसान को रोजगार देना भी संभव नहीं है। जिससे देश में भुखमरी की समस्या भी पैदा हो रही है। दोस्तों आज हम एक ऐसी ही घटना के बारे में बात करेंगे जिसमें 8 से 9 साल का बच्चा जिसको फुटपाथ पर अपने कुत्ते के साथ सोना पड़ता है।

आखिर क्यों सोना पड़ता है बच्चे को फुटपाथ पर

दरअसल दोस्तों आज हम बात करेंगे की 8 से 9 साल के बच्चे को फुटपाथ पर क्यों सोना पड रहा है। दोस्तों यह घटना है यूपी के मुजफ्फरनगर में लगभग 9 से 10  साल का दिखने वाला ये बेबस बच्चा अपना नाम अंकित बताता है। बच्‍चे के अनुसार उसका पिता जेल में बंद है और मां छोड़ कर चली गई थी। ये मासूम बच्चा अपने परिवार या घर के बारे में इस के अलावा और कुछ नहींं जानता है। वह कहता है की और सभी बाते वह भूल गया है।

मासूम बच्चा जो बहुत मुश्किल से भरता है अपना पेट

ये मासूम जो बहुत मुश्किल से अपना पेट भरता है। यह मासूम बच्चा दिन में चाय की दुकान पर काम करता है और साथ ही कभी-कभी कचरा बिन कर अपना व अपने कुत्ते का पेट भरता है। इसका प्यारा कुत्ता जिसको वह प्यार से डैनी बोलता है। यह बच्चा बहुत मुश्किल से कमाता है। रात में कड़ाके की सर्दी में मुजफ्फरपुर नगर के शिव चौक के सामने किसी भी दुकान के सामने अपने कुत्ते के साथ सो जाता है। कुत्ता व मासूम बच्चा एक दूसरे का ध्यान रखते हैं।

पुलिस ने कराई बच्चे के रहने खाने की व्यवस्था

जैसे यह फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई और बहुत लोगों ने इस फोटो को देखा। यह खबर मुजफ्फरनगर स्थित पुलिस प्रशासन तक पहुंची। यह फोटो जनपद के एसएसपी अभिषेक यादव के पास पहुंची तो उन्होंने अपनी टीम भेजी बच्चे को ढूंढने के लिए। बच्चे को शहर में खोजा गया और अब बच्चा चाइल्ड एंड वुमेन वेलफेयर डिपार्टमेंट के देखरेख में है।

यहां बच्चे के रहने के साथ-साथ उसके अच्छे खानपान व उसके आगे की पढ़ाई के लिए बंदोबस्त किया गया है। दोस्तो हमें भी अपने चारो ओर रहने वाले बेसहारा तथा बेघर बच्चों की मदद करनी चाहिए। जिससे वे समाज में गरीबी व लाचारी का जीवन छोड़कर कुछ अच्छा कर सके। और जीवन को सहज तरीके से व्यतीत करने की क्षमता प्राप्त कर सकें।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.