Breaking News
Home / खबरे / रवि दहिया के सिल्वर मेडल जीतने पर उसकी मां ने कही बड़ी बात,कहा गोल्ड मेडल लाने के लिए, जानें पूरी खबर

रवि दहिया के सिल्वर मेडल जीतने पर उसकी मां ने कही बड़ी बात,कहा गोल्ड मेडल लाने के लिए, जानें पूरी खबर

हाल ही में जापान की राजधानी टोक्यो में ओलंपिक चल रहे हैं जिसमें काफी खिलाड़ी साले रहे हैं और भारत की ओर से भी काफी खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया है। इन दिनों कुश्ती के पहलवान रवी दहिया काफी सुर्खियों में चल रहे हैं। रवी दहिया के सुर्खियों में चलने का कारण भी बहुत खास है क्योंकि उन्होंने सेमी फाइनल मुकाबले में कजाकिस्तान के नूर इल्शाम को करारी शिकस्त दी। सेमीफाइनल मुकाबले में विपक्षी पहलवान ने रवी दहिया की बाजू पर दांतों से काट दिया था लेकिन इसके बाद भी रवी दहिया ने अपनी पकड़ को बनाए रखा और सेमीफाइनल मुकाबले में जीत दर्ज की इस जीत के साथ देश को बहुत उम्मीदें नजर आ रही थी लेकिन इसी बीच फाइनल मुकाबले में रवी दहिया का मुकाबला रूस के पहलवान से हुआ और इस मुकाबले में भारतीय पहलवान 4ह-7 से हार गए। इस हार के साथ ही भारतीय पहलवान और भारतवासियों को कुश्ती में सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा.

रवी दहिया की मां ने कहा अबकी बार लाना है गोल्ड मेडल

भारतीय पहलवान रवी दहिया के फाइनल में हार के बाद सिल्वर मेडल ही मिला लेकिन ओलंपिक जैसे बड़े मंच पर सिल्वर मेडल जीतना भी बहुत बड़ी बात है। दरअसल रवी दहिया हरियाणा के सोनीपत जिले के एक छोटे से गांव से रहने वाले हैं लेकिन छोटे गांव के इस पहलवान ने ओलंपिक में भारत का बड़ा नाम कर दिया फाइनल मुकाबले में हारने के बाद रवी दहिया की मां ने कहा कि वह अपने बेटे से अगली बार गोल्ड मेडल लाने के लिए कहेगी उन्होंने कहा कि इस बार सिल्वर मेडल जीतने पर उन्हें बहुत खुशी है और वह अपने पहलवान बेटे की वापसी पर उनके स्वागत का इंतजार कर रहे हैं। एबीपी न्यूज़ से बातचीत करते हुए भारतीय पहलवान की मां उर्मिला दहिया ने कहा कि वह बेटे की वापसी पर उसका शानदार स्वागत करेगी। उन्होंने यह भी बताया कि उनके बेटे का पसंदीदा भोजन चूरमा है जो उनके आते ही उन्हें खिलाना चाहती हैं इसके अलावा उनके पहलवान बेटे को खीर और हलवा खाना भी बहुत पसंद है

काफी वक्त से घर नहीं गए हैं भारतीय पहलवान रवि दहिया

भारत के पहलवान रवी दहिया ने हाल ही में ओलिंपिक में सिल्वर पदक जीता है लेकिन उनके सिल्वर पदक जीतने तक का सफर इतना आसान नहीं रहा बातचीत के दौरान पहलवान की माता ने बताया कि उनका बेटा पिछले 1 साल से घर नहीं आया है और वह ओलंपिक की तैयारी कर रहा था इसके लिए उसने दिल्ली में ट्रेनिंग ली। रवी दहिया एक बहुत ही मेहनती और सरल स्वभाव के पहलवान हैं जिन्होंने अपने साथ-साथ पूरे देश का नाम भी रोशन किया है।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.