Breaking News
Home / खबरे / कितनी सम्पति के मालिक है धाकड़ पत्रकार सुधीर चौधरी

कितनी सम्पति के मालिक है धाकड़ पत्रकार सुधीर चौधरी

पूरे देश और विश्व में होने वाली घटनाओं को लोगों के बीच लाने का श्रेय मीडिया को जाता है। कुछ न्यूज़ चैनल और उन्हें प्रस्तुत करने वाले एंकर बहुत ही फेमस है जिन्हें पूरे भारत में पहचान मिली हुई है। इन्हीं में एक नाम आता है सुधीर चौधरी।

कौन है सुधीर चौधरी

सुधीर चौधरी एक जाने-माने पत्रकार हैं जो ज़ी न्यूज़ में कार्य करते हैं और उनके द्वारा प्रस्तुत किया जाने वाला रात 9:00 बजे डीएनए रिपोर्ट बहुत ही प्रसिद्ध है।
सुधीर चौधरी ज़ी न्यूज़ में एडिटर इन चीफ और प्राइम टाइमिंग एंकर है। सुधीर चौधरी का जन्म हरियाणा के पलवल जिले में हुआ है इसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक किया। स्नातक करने के बाद इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन में एडमिशन लिया जहां से वह पत्रकार बनने का सपना देख कर आगे बढ़े। सुधीर चौधरी की पत्नी नीति चौधरी है और इनका एक बेटा भी है।

सुधीर चौधरी का कैरियर,अवार्ड और सैलरी

सुधीर चौधरी ने अपने करियर की शुरुआत 1990 के दौर में की वह है ज़ी न्यूज़ के साथ जुड़ गए। इसके बाद 2003 में सुधीर चौधरी ने ज़ी न्यूज़ छोड़कर सहारा ग्रुप के साथ जोड़ने का फैसला किया। थोड़े समय के लिए सुधीर चौधरी इंडिया टीवी के साथ भी जुड़े रहे।लेकिन किस्मत को यह मंजूर नहीं था और 2012 में सुधीर चौधरी वापस से ज़ी न्यूज़ के साथ जुड़े। ज़ी न्यूज़ के साथ वापस जोड़ने के बाद सुधीर चौधरी ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और अपने कार्य में आगे बढ़ते हुए चले गए और आज वह ज़ी न्यूज़ में editor-in-chief और प्राइम टाइम शो के प्रेजेंटेटर हैं।
सुधीर चौधरी को मीडिया के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के लिए “रामनाथ गोएंका एक्सीलेंस अवार्ड” से सम्मानित किया गया है।

चौधरी पिछले 18 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं और वह भारत के सबसे अधिक रुपए कमाने वाले एंकर्स में से एक हैं। सुधीर चौधरी की मासिक कमाई लगभग 25 लाख रुपए हैं और 2021 में उसकी नेट वर्थ करीब 22 करोड रुपए रही है।

सुधीर चौधरी के बारे में कहा जाता है कि “आप सुधीर चौधरी को पसंद या नापसंद कर सकते हैं पर आप उन्हें नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं”.

बताया जाता है की कई बार लोगो को सुधीर चौधरी की पत्रकारिता पर शक होता है चूँकि लोगो को लगता है की वो एक दल के लिए पक्षपात करते है. इस बारे में सुधीर बताते है की पत्रकारिता में किसी भी एक दल के लिए बिकाऊ होना उन्हें नही सिखाया गया है. बल्कि वो निष्पक्ष होकर अपना काम करते है.

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.