Breaking News
Home / खबरे / उर्फी जावेद का छलका दर्द, बोली “पिता भी समझते थे मुझे गलत वीडियो मनाने वाली लड़की”

उर्फी जावेद का छलका दर्द, बोली “पिता भी समझते थे मुझे गलत वीडियो मनाने वाली लड़की”

बॉलीवुड एक बहुत ही बड़ी इंडस्ट्री है जिसके चलते आज के समय मे सभी बॉलीवुड में काम करना चाहते है और करोड़ो रुपए कमाना चाहते है. बॉलीवुड के बहुत सारे ऐसे किस्से है जिसके चलते बॉलीवुड की एक्ट्रेस और एक्टर चर्चा का विषय बन जाते है. आपको बता दे कि आज के समय मे बहुत सारी ऐसी एक्ट्रेस है जो कि काफी मुश्किल समय का सामना करने के बाद बॉलीवुड की फ़िल्म इंडस्ट्री में आई है और अपनी अलग ही पहचान बनाई है. आज हम आपको बॉलीवुड की एक ऐसी एक्ट्रेस के बारे में बताएगे जिसने अपने जीवन मे जितना मुश्किल और कठिन समय देखा है वैसा भगवान किसी को भी ना दिखाए. जी एक्ट्रेस की हम बात कर रहे है उस एक्ट्रेस को बचपन मे उसके पिता ने ही ग़लत शब्द बोलने शुरू कर दिए थे और इसी के साथ-साथ इस एक्ट्रेस को उसके पिता गलत तरह की वीडियो बनाने वाली लड़की बोलते थे.

जिस एक्ट्रेस की हम बात कर रहे है उसका नाम उर्फी जावेद है. आज के समय मे उर्फी जावेद को पूरा बॉलीवुड जानता है और हर कोई उर्फी जावेद की खूबसूरती और उनकी एक्टिंग का दीवाना है. उर्फी जावेद ने अपने जीवन मे एक समय ऐसा था जब उनके पिता ही उन्हें गलत फिल्मे बनाने वाली लड़की बोलते थे और उनके साथ बुरा व्यवहार करते थे. आइए आपको उर्फी जावेद के इस दर्द के बारे में बताते है और साथ ही यह भी बताते है कि क्यों उनके पिता ही उन्हें गलत फिल्मे बनाने वाली बोलकर नीचा दिखाते थे.

उर्फी जावेद गुज़री है काफी मुश्किल दौर से, मीडिया को खुद उर्फी ने बताया अपना दर्द

उर्फी जावेद आज के समय मे एक बहुत बड़ी एक्ट्रेस बन चुकी है क्योंकि उन्होंने अपने अभी तक का कैरिएर में काफी सारे नाटकों में काम कर लिया है. उर्फी के बारे में बताए तो हालहिं में जब वह उन्होंने बिगबॉस शो में हिस्सा लिया था तो उन्होने मीडिया को अपने एक इंटरव्यू में बताया कि उनका बचपन किस बुरे हालातो में गुजरा है. उर्फी जावेद ने बताया कि “जब वह स्कूल में पढ़ा करती थी तो किसे एक लड़के ने उनकी गलत तरह की तस्वीर को लेकर सोशल मीडिया और पोस्ट कर दिया था. जिसके चलते सभी जगह उन्हें लोगो की काफी बाते सुननी पड़ी. यहां तक कि उनके पिता भी उन्हें गलत समझने लगे गए और ग़लत फिल्मे बनाने वाली लड़की बोलने लगे गए जिसके चलते वह आए दिन उनके साथ काफी बुरा व्यवहार करते थे. उर्फी जावेद ने बताया कि उन्होंने 2 साल से भी ज्यादा इस चीज को सहन किया है और उसके बाद वह अपनी बहनों के साथ पिता के घर को छोड़कर भाग आई मुम्बई में रहने लगी. आइए आपको आगे आर्टिकल में उर्फी जावेद ने मुम्बई में आने के बाद जो संघर्ष किया उसके बारे में बताते है.

उर्फी जावेद ने मुम्बई में आकर की थी 8 हज़ार रुपए महीने की नौकरी, दो बहनों और भाई को पालने की थी कंधों पर ज़िम्मेदारी।

उर्फी जावेद का आज के समय मे छोटे टीवी यानी कि नाटकों में एक्टिंग की दुनिया मे नाम चलता है. जिसके चलते आज के समय मे वह बहुत बड़ी एक्ट्रेस बन चुकी है. उर्फी जावेद जब अपने पिता के घर को छोड़कर मुम्बई आई तो तो उन्होंने मात्र 8 हज़ार रुपए महीने में कॉल सेंटर में जॉब की थी. यह बात खुद उर्फी जावेद ने बताई थी. उर्फी जावेद ने आगे बताया कि परिवार को पालने के लिए उनके पास पैसे नही थे फिर उन्हें नाटक में काम मिला और यही से उनकी किस्मत ने बदलाव लिया. आपकीं जानकारी के लिए बता दे कि उर्फी जावेद की एक्टिंग के और उनकी सुंदरता के आज के समय मे लोग पूरी तर्ज दीवाने है. जिसके चलते उन्हें काफी नाटकों में काम मिला है और उन्होंने खुद के बल-बूते पर अपने परिवार को पाला है.

About Nausheen Ejaz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *