Breaking News
Home / खबरे / रोहित शर्मा की कप्तानी में नही मिला मौक़ा तो बोल दिया इस धाकड खिलाड़ी ने क्रिकेट को अलविदा, सामने आई बड़ी खबर

रोहित शर्मा की कप्तानी में नही मिला मौक़ा तो बोल दिया इस धाकड खिलाड़ी ने क्रिकेट को अलविदा, सामने आई बड़ी खबर

रोहित शर्मा की कप्तानी में जिस खिलाड़ी को मौक़ा नही मिला उसने हालहि में क्रिकेट को अलविदा बोल दिया है और इतना ही नही बल्कि अब यह खिलाड़ी क्रिकेट खेलता हुआ नही दिखेगा. रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम अक्टूबर में होने वाले विश्व कप को लेकर अपनी पूरी तैयारी कर रही है। भारतीय टीम के 15 सदस्य खिलाड़ी दिन-रात अभ्यास शिविर में पसीना बहाते हुए नजर आ रहे हैं लेकिन इसे भी सबके बीच में भारतीय टीम के एक ऐसे खिलाड़ी ने सन्यास ले लिया है जिसने भारतीय टीम के लिए कई अहम योगदान दिया था। आपको बता दें कि जिस खिलाड़ी ने हाल ही में संन्यास की घोषणा की है वह 2007 में जब महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में भारतीय टीम ने पाकिस्तान को हराकर विश्वकप का खिताब जीता था तब उस टीम का एक अहम हिस्सा थे और उन्होंने भारतीय टीम को अपने दम पर कई मुकाबले जीताए हैं. आइए आपको बताते हैं कौन है वह धुरंधर खिलाड़ी जिसके सन्यास से क्रिकेट प्रेमी बहुत निराश नजर आ रहे हैं.

रॉबिन उथप्पा ने लिया क्रिकेट करियर से संन्यास, इस भूमिका में अब आएंगे नजर

रॉबिन उथप्पा एक समय में भारतीय टीम के लिए बहुत बड़ा नाम हुआ करते थे. 2006 में अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत करने वाले रोबिन उथप्पा भारतीय टीम के लिए बतौर सलामी बल्लेबाज के रूप में नजर आते थे और उनके कद काठी और बेहतरीन बल्लेबाजी को देखकर कम समय में ही लोगों ने यह कह दिया था कि यह बल्लेबाज आगे चलकर भारत के लिए बड़ा नाम कमाएगा और ठीक वैसा ही हुआ था. भारतीय टीम ने जो 2007 का विश्व कप अपने नाम किया था तब उस टूर्नामेंट में रॉबिन उथप्पा ने कई ऐसी शानदार पारी खेली थी जिसकी वजह से भारतीय टीम विजयी हुई थी. आइए आपको बताते हैं कैसे रॉबिन उथप्पा ने अपने क्रिकेट के छोटे करियर में ही भारत के लिए कुछ ऐसे योगदान दिए हैं जो लोग कभी नहीं भूल सकते हैं.

रोहित शर्मा का दोहरा शतक बनवाने में की थी मदद, अब नजर नहीं आएगा क्रिकेट के मैदान पर यह खिलाड़ी

रोहित शर्मा ने जब अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक 264 रनों की पारी खेली थी तब उन्होंने इस पारी का श्रेया रॉबिन उथप्पा को भी दिया था। उन्होंने बताया था कि वह रॉबिन उथप्पा ही थे जो लगातार क्रीज के दूसरी तरफ खड़े रहकर उन्हें गेंद खेलने को दे रहे थे। दरअसल उस मुकाबले में रॉबिन अपने लिए रन बनाने के लिए नहीं खेल रहे थे बल्कि हर गेंद पर 1 रन लेकर विराट कोहली को स्ट्राइक दे रहे थे और भले ही इस मुकाबले में रॉबिन उथप्पा ने 16 रन बनाए थे लेकिन उनकी लोगों ने खूब तारीफ की थी। रॉबिन को याद किया जाता है पाकिस्तान के खिलाफ हुए टाईब्रेकर मुकाबले के लिए जब मुकाबले के टाई होने के बाद टाईब्रेकर से फैसला होना था और उसमें रोबिन उथप्पा ने शानदार गेंदबाजी करते हुए विकेट पर गेंद दे मारी थी। हालांकि अभी भी रॉबिन उथप्पा इंडियन प्रीमियर लीग में बल्लेबाजी करते नजर आएंगे लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अब उनकी आने की उम्मीद इस संन्यास के बाद समाप्त हो गई है.

About Nausheen Ejaz

Leave a Reply

Your email address will not be published.