Breaking News
Home / खबरे / पेट्रोल डीजल के कम होंगे भाव जल्द मिल सकती है राहत

पेट्रोल डीजल के कम होंगे भाव जल्द मिल सकती है राहत

देश में बढ़ते हुए पेट्रोल और डीजल के भाव बहुत बड़ी समस्या बन गई है। आम व्यक्ति के लिए इतना महंगा पेट्रोल डीजल डलवाना बस की बात नहीं है। इसी के चलते आज हम आपको एक राहत की खबर बताने वाले हैं। पेट्रोल और डीजल की प्रतिदिन ज्यादा मात्रा में खपत करने वाले ग्राहकों के लिए एक अच्छी खबर आई है आपको बताना चाहेंगे कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में जल्द ही कच्चे तेल की कीमतों में कमी आने की संभावना है। दरअसल तेल उत्पादक देशों का एक समूह है ओ पी ई सी जिन्होंने एक समझौता किया है इस समझौते के अनुसार कच्चे तेल की बढ़ती मांगों को लेकर तेल का उत्पादन बढ़ाने पर सहमति बनाई है ।

Corona के चलते कम हो गई थी कच्चे तेल की मांग

पूरी दुनिया इस समय कोरोना जैसी महामारी से जूझ रही है इसका असर कच्चे तेल पर भी पड़ा है। कोरोना के चलते दुनिया भर में कच्चे तेल की मांग कम होने की आशंका जताई थी। आपको बताना चाहेंगे कि कच्चे तेल की कीमत कोरोना के चलते $73 पर पहुंच गई थी। जबकि अमेरिकी कच्चे तेल की कीमत $71 प्रति बैरल हो गई थी। आपको बता दें कि इस महीने कच्चे तेल की कीमतों में कमी आई है। दुनिया भर के सभी देश Corona महामारी से उबर रहे हैं इसी के चलते कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि हुई थी।

बढ़ेगा कच्चे तेल का उत्पादन

एक रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात के बीच एक डील हुई थी। इस समझौते में कच्चे तेल के उत्पादन में कमी लाने की बात कही गई थी। लेकिन अभी तेल उत्पादक देशों के समूह के एक समझौते के चलते कच्चे तेल के उत्पादन में वृद्धि लाने की बात पर सहमति बनाई गई है।

कम होगा कच्चे तेल का भाव

आपको बताना चाहेंगे कि जुलाई महीने में कच्चे तेल के उत्पादन में वृद्धि हुई है और आशंका जताई जा रही है कि अगस्त में भी कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाया जा सकता हैं जिसके चलते कच्चे तेल की कीमतों में कमी आने की आशंका है।

घटेगा पेट्रोल का भाव

कुछ जानकारों का मानना है कि कच्चे तेल के उत्पादन के साथ ही पेट्रोल डीजल की कीमतों में कमी आ सकती है। एक ऑयल एक्सपर्ट का कहना है कि आने वाले दिनों में ग्लोबल मार्केट में कच्चे तेल के भाव में कमजोरी आने के आसार नजर आ रहे हैं। भारत जैसे देश के लिए एक बहुत ही अच्छी खबर है। आपको बताना चाहेंगे कि इससे भारत का ना केवल आयात बिल कम होगा बल्कि तेल के खुदरा मूल्यों में भी कमी लाई जा सकती है।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.