Breaking News
Home / खबरे / अभिनेता राजकुमार का अंतिम संस्कार हुआ था गुपचुप, वजह का अब हुआ खुलासा

अभिनेता राजकुमार का अंतिम संस्कार हुआ था गुपचुप, वजह का अब हुआ खुलासा

बॉलीवुड के जाने-माने दिग्गज अभिनेता राज कुमार का जन्म 8 अक्टूबर साल 1926 बलोचिस्तान में हुआ था। राजकुमार का असली नाम कुलभूषण पंडित था और उनको प्यार से करीबी लोग ‘जानी’ के नाम से पुकारते थे।राजकुमार 40 के दशक में मुंबई आ गयें, और मुंबई ही इनका ठिकाना बन गया। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में ‘जानी’ कहते ही एक ऐसे एक्टर की छवि सामने आ जाती है जिसकी आवाज की कशिश और एक्टिंग के हुनर के सभी कायल थे।

फिल्मो से पहले पुलिस मे करते थे नौकरी

राज कुमार की कद-काठी कम थी, लेकिन स्नातक की डिग्री के चलते, उन्हें मुंबई पुलिस में सब इन्स्पेक्टर की नौकरी मिल गई और बतौर सब इंस्पेक्टर राजकुमार मुंबई के माहिम पुलिस स्टेशन में काम करने लगे। राजकुमार की पत्नी जेनेफर ऊर्फ गायत्री थीं और वह एक हेयरहोस्टज थीं।

प्लेन यात्रा के दौरान ही राजकुमार की मुलाकात उनसे हुई थी और उसके बाद राजकुमार उनके ऐसे दीवाने हुए कि उनसे शादी करके ही माने। राजकुमार अपनी पत्नी गायत्री से बेहद प्यार करते थे और उनके प्यार और सम्मान पर कभी आंच नहीं आने देते थे।

पहली फिल्म हो गई थी फ्लॉप

राजकुमार ने जब फिल्मों में एंट्री मारी और सबसे पहली फिल्म ‘रंगीली’ की। उसके बाद आबशार,घमंड, फिल्में की। लेकिन राजकुमार साल 1995 में आई फिल्म “गॉड एंड गन” राज कुमार की आखिरी फिल्म थी। फिल्म के आने के कुछ दिनों बाद ही राजकुमार अकेले रहने लगे। राजकुमार की चर्चा फिल्म ‘मदर इंडिया’ के लिए हुआ करती थी।

जहां उन्होंने अभिनेत्री नरगिस के पति शामू का किरदार निभाया था। फिल्मों में आने से पहले राजकुमार को फिल्में देखने का कभी भी शौक नहीं था। एक्टर बनने के बाद भी राजकुमार को फिल्में देखने की कोई लालसा नहीं हुई। एक इंटरव्यू में राजकुमार ने कहा था, ‘मेरी फिल्में एक वक्त पर बिल्कुल नहीं चलती थी लेकिन फीस 1 लाख बढ़ जाती थी, और मैंने अपने सेक्रेटरी से कहा की पिक्चर चले ना चले, लेकिन मैं फेल नहीं हो रहा हूं’।

गले के कर्क रोग के कारण दुनिया छोडी

राजकुमार की मशहूर फिल्मों में ‘पाकीजा’, ‘वक्त’, ‘सौदागर’ जैसी फिल्में हैं। लगभग 3 दशकों के बाद राजकुमार ने दिलीप कुमार के साथ ‘सौदागर’ फिल्म की थी लेकिन खबरों के मुताबिक दोनों के बीच शूटिंग के दौरान ज्यादा बातचीत नहीं होती थी। गले के रोग की वजह से 3 जुलाई 1996 को राजकुमार का देहांत हो गया। वो मात्र 69 साल की उम्र में हमें छोड़ कर चले गए।राजकुमार एक सदाबहार अभिनेता थे और उनकी छवि दर्शकों में हमेशा एक सुपरस्टार की बनी रहेगी। आज भी लोग उनसे इतना ही प्यार करते हैं जितना पहले करते थे।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.