Breaking News
Home / खबरे / प्रेमिका से मिलने के लिए काट दी पूरे गाँव की लाइट, ले गया भगा कर और कर ली शादी

प्रेमिका से मिलने के लिए काट दी पूरे गाँव की लाइट, ले गया भगा कर और कर ली शादी

प्यार के लिए बोला जाता हैं कि अगर यह किसी व्यक्ति को हो जाए तो वह उसे हासिल करने के लिए कुछ भी कर सकता हैं. प्यार एक ऐसी चीज है जो अगर किसी व्यक्ति को मिल जाए तो वह बहुत खुश हो जाता है और अगर किसी को नही मिले तो उससे ज्यादा दुखी आदमी और कोई भी नही होगा. अगर सीधे शब्दों में बोला जाए तो एक प्यार करने वाला प्रेमी अपने प्यार को पाने के लिए कुछ भी कर सकता है और किसी भी हद तक गुज़र सकता हैं. एक प्रेमी अपने प्यार को हासिल करने के लिए हर मुमकिन चीज कर सकता हैं. आज हम आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसे ही व्यक्ति के बारे में बातएगे जिसने अपने प्यार को हासिल करने के लिए सभी हदे पर ली. इस व्यक्ति ने अपने प्यार को पाने के लिए पूरे गाँव की लाइट ही बन्द कर दी और अपनी प्रेमिका से मिलने पॉच गया. इतना ही नही बल्कि लाइट काट कर सीधा अपनी प्रेमिका को भगाने के लिए तैयार ओर गया और उसे उसके घर से भी भगा कर ले आया. आइये आपको बतांते है कि आखिर वह आदमी हैं कोन जिसने अपनी प्रेमिका को शादी के लिए भगाने के लिए गाँव की लाइट ही काट दी और साथ में यह भी बातएगे की आखिर कैसे इस व्यक्ति ने अपने प्यार को पाने के लिए गाँव की बिजली उड़ा दी.

प्यार ऐसा की तोड़ दी सारी हदें , काट दी 2 घण्टे के लिए पूरे गाँव की बिजली

जिस प्रेमी के बारे में हम आपको बता रहे हैं उसने अपनी प्रेमिका से लैला मजनू जैसा प्यार किया है. इस लड़के का नाम सुरेंद्र राय है जो कि एक मिस्त्री है और बिजली का काटने का ओर भेझने का काम करता हैं. जिस जिले में यह घटित हुआ है वह पूर्णिया जिले का आदिवासी इलाका हैं. पूर्णिया जिला उत्तरप्रदेश राज्य में आता है. बताया जा रहा है कि मिस्त्री सुरेंद्र राय गाँव की ही एक आदिवासी लड़कीं से प्यार करता था और उससे विवाह करना चाहता था लेकिन उसने कभी भी यह हिम्मत नही की वह सबके सानमे जाकर लड़कीं का हाथ माँग ले. जिस लड़की से यह प्यार करता था वह गाँव के जाने माने आदमी की बेटी थी इसलिए डर की वजह से सुरेंद्र ने अपने प्यार के बारे में किसी को भी नही बताया.

लैला मजनूं के जैसा था प्यार , कर दी थी सारी हदें पार

खबरों के मुताबिक पता चला हैं कि सुरेंद्र राय इस लड़की से बहुत ज्यादा प्यार करता था और जब भी इससे मिलने की इच्छा होती और रोमांस करने की इच्छा होती तो वह पूरे गाँव की लाइट काट देता था और अपनी प्रेमिका से मिलने पॉच जाता था. इसी के चलते वह रोज-रोज रात में 2 से 3 घण्टे के लिए लाइट काट देता था. गाँव वाले समझ नही पा रहे थे कि आखिर रोज इनके ही गाँव की लाइट क्यों चली जाती हैं. एक बार किसी गाँव के आदमी ने लाइट के मिस्त्री सुरेंद्र को देख लिया कि वह अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए गाँव की लाइट काट देता था. उसी दिन गाँव के लोगो मे सोचा की हम सभी मिलकर इसको रंगे हाथों पकड़ेगे ओर इसको सबक भी सिखयेगा ताकि आगे से कोई ऐसा काम करने की सपने में भी ना सोचे.

गाँव के लोगो ने पड़कर के मुंडवा दिया सर , लेकिन बाद में करवा दी दोनो की शादी

गाँव के लोगो ने उसी रात को सुरेंद्र को उसकी प्रेमिका से पकड़ लिया और पहले तो उसकी पिटाई की ओर उसके बाद उसे जूतों की माला पहनाकर ओर उसका सिर मुंडवा कर पूरे गाँव मे घुमाया ओर उसको बहुत अच्छा सबक सिखया. लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दे कि दी अगले दिन सुबह गाँव की पंचायत में यह तय हुआ कि इन दिनों की शादी करवा दी जाएगी. कुछ दिनो में दोनो की शादी करवा दी गई. जैसे ही सुरेंद्र अपनी प्रेमिका को लेकर अपने गाँव लेकर गया तो पता चला कि वह पहले से ही शादी-शुदा हैं. यह देखकर सभी लोग बहुत ज्यादा हैरान हो गए लेकिन किसी ने भी सुरेंद्र के खिलाफ कोई भी कंप्लेन रेजिस्टर नही करवाई थी.

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.