Breaking News
Home / खबरे / पुलिस ने जब्त की 5 करोड़ की लंबोर्गिनी, मालिक की हुई हालत खराब

पुलिस ने जब्त की 5 करोड़ की लंबोर्गिनी, मालिक की हुई हालत खराब

विश्व भर में लेंबोर्गिनी एक स्पोर्ट्स कार के तौर पर जानी जाती है। लेंबोर्गिनी की हर गाड़ी काफी महंगी आती है भारत समेत दुनिया भर में लेंबोर्गिनी कार के करोड़ों लोग दीवाने हैं। भारत में सामान्य तौर पर व्यक्ति 15-20 लाख रुपए की गाड़ी से संतोष कर लेता है वही कुछ अमीर लोग अपने शौक के लिए करोड़ों रुपए की गाड़ी खरीद लेते हैं हाल में आई एक खबर के अनुसार पुलिस ने 5 करोड़ रूपए की लंबोर्गिनी को जब्त कर लिया है। यह घटना इंग्लैंड की है जहां एक शख्स ने अपनी लंबोर्गिनी कार को पुलिस के द्वारा दो बार वार्निंग देने के बाद भी धीरे नहीं चलाया इसके बाद पुलिस ने इसे जब्त कर लिया।

5 करोड रुपए की लेंबोर्गिनी की जब्त

रिपोर्ट के मुताबिक इंग्लैंड के साउथ मिम्स के हार्टफोर्डशायर में एक व्यक्ति अपनी लेंबोर्गिनी कार को काफी तेज चला रहा था। दरअसल बैंक हॉलिडे पर दुनिया की फास्टेस्ट कार में से एक लंबोर्गिनी को एक शख्स बेहद गलत तरीके से चला रहा था जिसके बाद पुलिस ने उसे रोकने की कोशिश की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि गलत तरीके से लेंबोर्गिनी कार चलाने के बाद दो बार अलार्म मॉर्निंग दी गई लेकिन इसके बाद भी ड्राइवर ने पुलिस की नहीं सुनी अंत में सब पुलिस तंग आ चुकी थी तो उन्होंने गाड़ी को ही रुकवा लिया इसके बाद जब गाड़ी की जांच पड़ताल की गई तो उसे जब्त कर लिया गया।

आपको बता दें कि इस लेंबोर्गिनी कार की कीमत ₹5 करोड़ है और यह गाड़ी काफी तेज दौड़ सकती है। इसकी अधिकतम रफ्तार 350 किलोमीटर प्रति घंटे है। लैंबोर्गिनी अपने लग्जरी कारों और शानदार लुक के कारण पूरी दुनिया में फेमस है। दुनिया में हर इंसान का सपना होता है कि वह 1 दिन लेंबोर्गिनी कार जरूर खरीदें।

रोने लगा लेंबोर्गिनी का मालिक

पुलिस ने जब दो बार लंबोर्गिनी के मालिक को अलार्म वार्निंग दे दी थी इसके बाद भी ड्राइवर ने अनसुनी की तब पुलिस ने गाड़ी को ही रुकवा लिया और अपने कब्जे में ले लिया जब पुलिस ने इस कार पर एक्शन लिया तो मालिक ने चले जाने का आग्रह किया लेकिन पुलिस पहले ही वार्निंग दे चुकी थी इसलिए गाड़ी को नहीं छोड़ा इसके बाद लेंबोर्गिनी का मालिक रोने लगा और रोते हुए अपने घर की तरफ चला गया। पुलिस ने सुधार अधिनियम 2002 की धारा 60 के तहत लेंबोर्गिनी को जप्त किया है। हालांकि कुछ समय बाद लेंबोर्गिनी कार उसके मालिक को सौंप दी गई।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.