Breaking News
Home / खबरे / मिट्टी के मकान से की थी शुरुआत, खुद मालिक ने उड़ाया था पहला प्लेन आज है एयर इंडिया कंपनी के मालिक है टाटा

मिट्टी के मकान से की थी शुरुआत, खुद मालिक ने उड़ाया था पहला प्लेन आज है एयर इंडिया कंपनी के मालिक है टाटा

किसी भी मुकाम को हासिल करने में बहुत समय ओर उसके साथ-साथ मेहनत भी लगती है. आज हम आपको भारत के एक ऐसे आदमी के बारे में बातएगे जिन्होंने अपने बिसिनेस को एक छोटे से मिट्टी के मकान से शुरू किया था और आज वह भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन्स बन गई हैं. जी हाँ हम बात कर रहे हैं एयर इंडिया कंपनी की. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एयर इंडिया कंपनी की शुरुआत साल 1947 में हुई थी. बताया जाता है इस कंपनी की शुरुआत सिर्फ 2 लोगो ने मिलकर की थी.

टाटा एयरलाइन्स नाम से की थी शुरुआत

एयर इंडिया शुरुआती समय सिर्फ डाक का काम करता था मतलब चिट्टियो को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने का. लेकिन जब साल 1947 में भारत को आज़ादी मिली थी एयर इंडिया कंपनी ने नई शुरू आत की ओर न्यूज़ पेपर में ऐड दे दिया कि आजादी के इस शुभ मौके पर मात्र 145 रुपए में आप सभी हवाई जहाज की सहर करवाई जाएगी. आपको जानकर हैरानी होगी कि जैसे ही एयर इंडिया ने यह ऑफर निकाला तो लोगो की प्लेन में घूमने के लिए लाइन लग गई. यही से एयर इंडिया कंपनी ने अपना नाम कमाया था.

मात्र 2 हवाईजहाज से की थी शुरुआत , रनवे भी था कच्चा

आज हम आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से भारत की सबसे बड़ी हवाई जहाज की कंपनी एयर इंडिया के बारे में बातएगे. सूत्रों से पता चला हैं कि शुरुआती समय मे एयर इंडिया ने अपनी शूरुआत एक मिट्टी से बने ऑफिस से की थी. इतना ही बल्कि यह सिर्फ 5 जनो का ग्रुप था जिसमे से 2 लोग तो प्लेन उड़ाने वाले थे बाकी दो लोग प्लेन को ठीक करने मे काम करते थे और 5वा आदमी हेल्पर के तौर पर काम करता था. बताया जाता है कि एयर इंडिया कंपनी शुरुआती समय मे जिस रनवे पर प्लेन चलाती थी वह के कच्चा-मिट्टी का बना हुआ प्लेन था.

लेकिन फिर ही इस कंपनी ने रनवे को बार-बार सुधारकर काम चलाया था. ऑयर इंडिया के जीवन मे बदलाव आज़ादी के बाद आया. जैसे ही भारत को 15 अगस्त 1947 में आज़ादी मिली तो एयर इंडिया कंपनी ने नए-नए ऑफर निकाल कर ओर उस समय की सबसे प्रसिद्ध एक्ट्रेस को अपनी कंपनी का ब्रांड अम्बेसडर बना कर लोगो को अपनी कंपनी की तरफ आकर्षित कर लिया था.

टाटा एयरलाइन्स था कंपनी का नाम , घाटा होने की बजह से बिक गई कंपनी लेकिन फिर से बन गए टाटा मालिक

इस एयरलाइन्स का नाम टाटा एयरलाइन्स था. टाटा परिवार के वंशज जेआरडी टाटा ने पहली बार प्लेन को चलाया था. टाटा ने प्लेन को पहले अहमदाबाद ओर फिर मुम्बई में लैंड करवाया. साल 1980 के समय मे टाटा एयरलाइन्स घाटे में चली गई जिसके चलते भारत सरकार ने इसे खरीद लिया और इसका नाम एयर इंडिया रख दिया. लेकिन हालहि खबर आई हैं कि सरकार ने फिर से भारत सरकार ने इस एयरलाइन्स को टाटा कंपनी को सौप दिया है. उम्मीद है फिर से एयरलाइन्स पहले की तरह आसमान चूमेगी.

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.