Breaking News
Home / खबरे / एलीयन से ख़ास रिश्ता था आइन्स्टायन का, अमेरिया मिलने गये थे एलीयन से पुराने विडीओ में हुआ खुलासा

एलीयन से ख़ास रिश्ता था आइन्स्टायन का, अमेरिया मिलने गये थे एलीयन से पुराने विडीओ में हुआ खुलासा

एलियंस का मतलब होता हैं जो कि पृथ्वी पर नही बल्कि दूसरे किसी ग्रह पर रहते हो. दूसरे ग्रह पर रहने वाले लोगो को एलिसन बोला जाता है. जैसे पृथ्वी पर रहने वाले लोगो को इंसान बोला जाता है उसी तरह दूसरे ग्रह के लोगो को एलियन बोला जाता है. वर्तमान समय मे एलियंस को लेकर पूरी दुनिया के वैज्ञानिकों के बीच मे मानो क्रांति सी चल रही हो. अगर वैज्ञानिकों की बात की जाए तो अल्बर्ट आइंस्टीन दुनिया के सबसे जाने-माने भौतिक वैज्ञानिक माने जाते हैं.

विज्ञान की दुनिया मे बोला जाता है कि अगर दुनिया मे अल्बर्ट आइंस्टीन नही होते तो विज्ञान कभी भी इतनी तरक्की नही कर पाता हैं. अल्बर्ट आइंस्टीन को भौतिक विज्ञान का जनक बोला जाता हैं. हालहि में विज्ञान की दुनिया में फिर से क्रांति छिड़ गई है ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ समय पहले अल्बर्ट आइंस्टीन की एक रिकॉडिंग सामने आई जिसमे वह खबर हैं जो साल 1947 के समय आइंस्टीन एक निर्जीव एलियन की जाँच करने के लिए गए थे. जैसे ही यह रिकॉर्डिंग की बात-चीत सामने आई तो मानो विज्ञान की दुनिया की नींव ही हिल गई हो. आइये आपको बताते हैं कि ऐसा क्या था उस रिकॉर्डिंग में जिसके चलते लोगो मे फिर से क्रांति आ गई थी.

1947 में गए के आइंस्टीन एक निर्जीव एलियन का परीक्षण करने , फिर हुआ यह

हालहि में जो रिकॉर्डिंग सामने आई हैं उसमें दो लोगो के बीच मे बात-चीत हक रही है. इनमें से एक तो अल्बर्ट आइंस्टीन हैं और दूसरे ब्रिटेन के खुफिया अधिकारी के बीच की जा रही हैं. रिकॉर्डिंग में पता चल रहा हैं कि साल 1947 में ब्रिटेन के खुफिया अधिकारी की मदद से अल्बर्ट आइंस्टीन को अमेरिका के न्यू मैक्सिको शहर में लेजाया गया था. अल्बर्ट आइंस्टीन को अमेरिका इसलिए लेजाया गया था क्योंकि उन्हें खबर मिली थी की वहाँ पर एक स्पेस शिप टकराया हैं ओर यह कोई मामूली स्पेस शिप नही था बल्कि इस स्पेसशिप में एलियंस मौजूद थे यही कारण था जिसकी वजह से आइंस्टीन को खुफिया तरीके से लेजाया गया था ओर दूसरा कारण यह था कि अल्बर्ट आइंस्टीन उंस समय के सबसे प्रसिद्ध भूवैज्ञानिक थे.

रिकॉर्डिंग में था कुछ ऐसा हो गए सब लोग हैरान

साल 1947 में अल्बर्ट आइंस्टीन ब्रिटेन के खुफिया अधिकारी के साथ एलियंस की स्पेसशिप का परीक्षण करने गए थे. इस दौरन खुफिया एजेंट ने सारी बात-चीत रिकॉर्ड कर ली थी. साल 1992 में जब इस रिकॉडिंग का खुलासा हुआ तो ब्रिटेन की सरकार ने ओर अमेरिकी सरकार ने साथ मिलकर इस रिकॉर्डिंग को पुरो दुनिया को सुनाया. रिकॉर्डिंग में था कि अल्बर्ट आइंस्टीन जिस स्पेस शिप का परीक्षण करने गए थे वह कोई मामूली नही थी बल्कि उस स्पेसशिप में एलियंस भी थे जो कि स्पेस शिप क्रैश होने की वजह से उनके शरीर के टुकड़े-टुकड़े हो गए थे. इस बात की पुष्टि खुद आइंस्टीन ने की थी. यही सब कुछ उस रिकॉर्डिंग में था.

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.