Breaking News
Home / खबरे / जब अजय को धूल चटाने के लिए गाँव वालों ने घेरा, तो पिता वीरू देवगन लेकर पहुँच गये 200 पहलवानो की फ़ौज

जब अजय को धूल चटाने के लिए गाँव वालों ने घेरा, तो पिता वीरू देवगन लेकर पहुँच गये 200 पहलवानो की फ़ौज

बॉलीवुड में अजय देवगन का नाम तो सभी ने सुना होगा क्योंकि अपने समय मे अजय देवगन ने बहुत सारी सुपरहिट फिल्में दी हैं जिसके चलते हर कोई बॉलीवुड में आज के समय इनका सिक्का मानता हैं. अजय देवगन जिस परिवार से है वह भी शुरुआत से फिल्मो में ही काम कर चुके हैं. अजय देवगन म पिता वीरू देवगन एक बहुत बड़े डायरेक्टर थे. अजय देवगन के लिए बोला जाता है कि अपने पिता के पद का इन्होंने बिल्कुल भी फायदा नही उठाया लेकिन फिर भी आज बॉलीवुड के सबसे ज्यादा जाने-माने सितारे हैं. बॉलीवुड में इन दिनों अजय देवगन का एक किस्सा बहुत ही ज्यादा वायरल हो रहा जिसके चलते अजय देवगन सोशल बहुत ज्यादा सुने जाने वाला शब्द हैं. आज हम आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से अजय देवगन के एक ऐसे किस्से के बारे में बातएगे जिसमे अजय देवगन के पिता अपने बेटे अजय को बचाने के लिए 300 से भी ज्यादा लड़के लेकर पॉच गए थे. आइये आपको बताते हैं कि आखिर ऐसा क्या हुआ था जिसकी वजह से वीरू देवगन 300 लड़के लेकर पौचे.

हो गई कि थी अजय देवगन की पिटाई , शो के दौरन हुआ इस बात का खुलासा

अजय देवगन एक बहुत बड़े स्टार है जिसके चलते इन्हें बहुत सारे रियलिटी शोज में बुलाया जाता है. कुछ समय पहले अजय देवगन को एक रियलिटी शो में बुलाया गया था जिसमे होस्ट मशहूर डायरेक्टर साजिद ओर एक्टर रितेश देशमुख थे. शो के दौरन साजिद ने लोगो को बोला की क्या आपको पता है कि जिन्हें सबसे बड़ा एक्शन हीरो माना जाता है उनकी भी कभी असल मे पिटाई हुई हैं. यह सुनते ही सभी लोग बहुत ज्यादा ताजुब करने लगे और पूछने लगे कि ऐसा होना कैसे संभव है. लोगो को जवाब देते हुए अजय देवगन बोले कि यह बिल्कुल सच है. अजय देवगन के इसी जवाब को सुनकर सभी लोग बहुत ज्यादा हैरान हो गए और यह जानने के लिए बहुत ज्यादा उत्सुख हो गए की आखिर ऐसा क्या हुआ था जिसके चलते अजय देवगन की पिटाई हो गई थी.

बेटे के पीटने की ख़बर सुनते ही वीरू देवगन पौचे 300 से भी ज्यादा लड़के लेकर

शो के दौरन साजिद ने इस बात का पूरा खुलासा की आखिर हुआ क्या था. साजिद ने बताया कि यह बार आज से काफी साल पुरानी हैं. साजिद ने बताते हुए बोला ” एक बार मैं ओर अजय देवगन ओर हमारे कुछ दोस्त घूमने गए थे. उस समय खुली जीप सिर्फ अजय के ही पास थी और उस समय भी गाड़ी भी वही ड्राइव कर रहे थे. ड्राइव करने के दौरन अजय देवगन के सामने उस गाँव का एक लड़का दौड़ता हुआ आ गया था उस लड़के के सामने आते ही अजय ने तुरंत ब्रेक लगा लिया और उसे बचा लिया लेकिन वह बच्चा डर गया था और चिल्लाने लगा.

बच्चे की आवाज़ सुनते ही उस गाँव के सभी लोग वहां इकट्ठा हो गए और अजय को पीटने के लिए उतारू हो गए और बोलने लगे कि तुम बड़े लोग तुम दिखता नही हैं ओर अजय को पीटने लग गए. समय रहते ही अजय देवगन ने अपने पिता वीरू देवगन को फोन कर दिया. जैसे ही वीरू देवगन को पता चला कि अजय परेशानी में हैं तो वह 3 से 4 ट्रक भर कर लगभग 300 लोग लेकर वहां पॉच गए और उन सभी गाँव वालो को बोले कि अकेले समझ कर पीटने की भूल मत करना. वुरु देवगन ने अपने बेटे अजय को बचा लिया. बोला जा रहा है कि अगर वहां वीरू देवगन नही होते तो शायद अजय को बहुत ज्यादा पिटाई पड़ती.

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.