Breaking News
Home / खबरे / मुकेश अंबानी का यह बिजनेस उनको और मालामाल कर देगा

मुकेश अंबानी का यह बिजनेस उनको और मालामाल कर देगा

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी आज भारत देश का एक सफल कारोबारी हैं। आज के समय में वह इतने सफल है कि कोई भी बिजनेस शुरू करते हैं तो उसमें उनका सफल होना निश्चित होता है। टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जिओ इसका एक जीता जागता सबूत है। कुछ रिपोर्ट के अनुसार मुकेश अंबानी अभी ग्रीन एनर्जी का बिजनेस शुरू करने की घोषणा कर चुके हैं लेकिन अभी से ही उनके इस बिजनेस की सफलता की भविष्यवाणियां कुछ बिजनेस एक्सपर्ट कर रहे हैं।

दरअसल अमेरिका के एक रिसर्च कंपनी ने दावा किया है कि रिलायंस कंपनी का ग्रीन एनर्जी का कारोबार अगले 5 सालों में सबसे अधिक कमाई करने वाला कारोबार बन जाएगा। इस रिसर्च कंपनी का कहना है कि यह कारोबार रिलायंस को अगले 5 सालों में ऊंचाइयों पर ले जाएगा और रिलायंस की नेट वर्थ बढ़कर 36 बिलियन डॉलर होने की आशंका है। उनकी इस रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर सब कुछ योजना के अनुसार चला तो वर्ष 2026 में रिलायंस पूरे विश्व में ग्रीन एनर्जी का कारोबार करने वाली सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी।

क्या है मुकेश अंबानी की योजना

आपको बताना चाहेंगे कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने पिछले महीने भी ग्रीन एनर्जी कारोबार शुरू करने की घोषणा की थी। इस कारोबार को शुरू करने के लिए मुकेश अंबानी इस कारोबार में लगभग 75,000 करोड़ रुपए इन्वेस्ट करने वाले हैं। बात करें इन रुपयों के खर्च करने की दो इनमें से 60हजार करोड रुपए 4 गीगा फैक्ट्री लगाने में खर्च होंगे इसके साथ ही इन फैक्ट्री में सोलर बैटरी फ्यूल सेल का उत्पादन किया जाएगा। एक रिपोर्ट के अनुसार यह सभी फैक्ट्री गुजरात के जामनगर शहर में लगाई जाएंगी। आपको बता दें कि मुकेश अंबानी की इस कंपनी की योजना 2020 तक 100 गीगावॉट सोलर एनर्जी की क्षमता उत्पादन करना होगा।

इन चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि पहले भी कई तेल कंपनियां ने सोलर एनर्जी को बनाने की कोशिश की है लेकिन वह सभी इस सेक्टर में विफल रही हैं। लेकिन रिलायंस का मैन्युफैक्चरिंग पर काफी अच्छा ध्यान है और संभावना यह है कि उन्हें ज्यादा मार्जिन मिल सकता है अपने उत्पादों की बिक्री पर । रिलायंस के सामने बहुत सारी चुनौतियां भी होंगी जिसके लिए रिलायंस को उन चुनौतियों का समाधान ढूंढना होगा। मुकेश को अपनी कंपनी को खड़ा करने के लिए नए नए साझेदार ढूंढने होंगे जो उनकी कंपनी की मैन्युफैक्चरिंग और तकनीकी आवश्यकताओं को पूरा कर सकें।

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.