Breaking News
Home / खबरे / नहीं रहे फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह ,91 साल की उम्र में महा मारी से निधन

नहीं रहे फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह ,91 साल की उम्र में महा मारी से निधन

पूर्व भारतीय लीजेंड और फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का शुक्रवार रात को 11:30 बजे निधन हो गया ,5 दिन पहले उनकी धर्म पत्नी का भी इस बीमारी की वजह से निधन हो गया था .मिल्खा सिंह का चंडीगढ़ के एक हॉस्पिटल में पिछले 15 दिनों से इलाज चल रहा था ,उनको तीन जून को आक्सीजन लेवल गिरने की वजह से हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था .

प्रधान मंत्री नरेंदर मोदी ने भी इनके निधन पर शोक जताया है ,मोदी जी का कहना है की हमने भारत के एक शानदार खिलाडी को खो दिया है मिल्खा सिंह ने लाखो भारतीयों के दिल में अपनी जगह बनायीं थी .मिल्खा का जो स्वाभाव था उसके कारण वो हर दिल के चहेते थे और उनके निधन से में बहुत दुखी हु .

3 जून को हॉस्पिटल में कराया था भर्ती 

मिल्खा सिंह और उनकी पत्नी महामारी से संक्रमित पाए गए थे ,24 मई को दोनों को एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था .30 मई को परिवार के लोगो के आग्रह पर दोनों को हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गयी थी ,वो घर पर ही रह रहे थे और उनका वही इलाज चल रहा था .लेकिन कुछ दिनों बाद दोनों पति पत्नी का आक्सीजन लेवल गिरने लग गया था तो उनकी पत्नी को फोर्टिस में भर्ती करवाया गया था और मिल्खा सिंह को दुसरे हॉस्पिटल में .

मोदी ने भी की थी मिल्खा सिंह से बातचीत 

प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी ने 4 जून को फ़ोन करके मिल्खा सिंह से बातचीत की थी और उनका हाल चाल पूछा था ,उन्होंने मिल्खा सिंह को कहा था की आपको जल्दी ठीक हो कर आना है और टोक्यो में खिलाडियों को उत्साह बढाना है .

पाक में हुआ था जन्म 

मिल्खा सिंह का जनम गोविन्दपुरा में हुआ जो की पाकिस्तान में है वो भी एक सिख परिवार में ,विभाजन होने के बाद वो भारत आ गए और यहाँ आकर भारतीय सेना में भर्ती हो गए .लेकिन खेल के प्रति झुकाव होने के कारण वो सेना की खेल यूनिट में शामिल हो गए ,जब सेना में भागने की प्रतियोगता हुई तो वो चार सो खिलाडियों में से 6 नंबर पर आये .उन्होंने ओल्य्पिक में भारत को कई बार गोल्ड मैडल दिलवाया था .

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.