Breaking News
Home / खबरे / ट्विटर ने उप राष्टरपति का ब्लू टिक हटाया ,फिर लोटाया ,आखिर हो क्या रहा ये

ट्विटर ने उप राष्टरपति का ब्लू टिक हटाया ,फिर लोटाया ,आखिर हो क्या रहा ये

जैसा आप सब को पता है की पिछले महीने सरकार ने सोशल मीडिया पर लगाम लगाने के लिए कुछ नियम लागू करने को कहा था ,और सरकार ने ये भी बोला था की अगर सोशल मीडिया प्लेटफार्म हमारी बात नहीं मानते तो उनको बंद कर दिया जायेंगा .इसी बीच ये खबर आई की ट्विटर ने उप राष्टरपति वेंक्या नायडू समेत रास्ट्रीय सेवक संघ के बहुत से नेताओ के अकाउंट से ब्लू टिक हटा ली है .जब इस मामले ने तुल पकड़ा तो दो घंटे बाद ही वापिस ब्लू टिक वापिस लोटा दिया गया ट्विटर द्वारा ,लेकिन इस मामले में ट्विटर की बहुत ही आलोचना हो रही है चलिए जानते है क्या है पूरा मामला .

ट्विटर ने क्यों हटाया ब्लू टिक 

ट्विटर ने इस मामले में सफाई दी है की उप राष्टरपति का ट्विटर अकाउंट 2020 से इनएक्टिव था ,जबकि ट्विटर की सिस्टम पालिसी के अनुसार ट्विटर ने आटोमेटिक उनके अकाउंट से ये टिक हटा दिया .लेकिन जब ये बात ट्विटर के बड़े अधिकारियो को पता लगी तो उन्होंने अपने आप इसको दुबारा से एक्टिव कर दिया .

आपको बता दे की ट्विटर ने थोड़े दिन पहले अपने ब्लू टिक पालिसी को दुबारा से एक्टिव किया गया है ,साथ ही साथ ये नियम भी लागू किये गए है की ब्लू टिक के लिए अकाउंट को 6 महीने एक्टिव होना चाइये .साथ ही साथ जो नियम ट्विटर ने लागु किये है उसका खाताधारक को पालन करना होगा .

अगर हम उप राष्टरपति के ट्विटर अकाउंट के बारे में बात करे तो उनके अकाउंट से 2020 से कोई नया ट्विट नहीं हुआ था ,और उनके अकाउंट को 13 लाख लोग फॉलो करते है .कंपनी की पालिसी के तहत अपने आप आटोमेटिक तरीके से ब्लू टिक हट गया .

ट्विटर के नए नियमो के अनुसार अगर आप का अकाउंट काफी टाइम से इनएक्टिव है और उस से कोई ट्विट नहीं हो रही है साथ ही साथ अगर आप का अकाउंट जिस काम के लिए बनाया गया था यानि आप कोई सरकारी अधिकारी थे पर अब नहीं हो तो ब्लू टिक अपने आप हट जायेंगा ये कंपनी की नयी पालिसी है .

ट्विटर पर क्यों शक किया जा रहा है 

आपको ये बता दे की भारत सरकार ने फरवरी में नयी गाइड लाइन जारी की थी ,जिसको ले कर ट्विटर और भारत सरकार में विवाद भी चल रहा था .ट्विटर ने अब तक गाइड लाइन पर अमल नहीं किया ,अभी कुछ दिन पहले ही जो टूल किट का मामला उछला था उसको लेकर दिल्ली पुलिस ने ट्विटर के दिल्ली और गुडगाँव दफ्तर पर छापा भी मारा था .

आज जब उप राष्टरपति के अकाउंट से ब्लू टिक हटाई गयी तो इसको लेकर आईटी मंत्रालय नाराज था ,उनका कहना था की उप राष्टरपति देश के सम्मानित व्यक्ति है और उनके अकाउंट से ब्लू टिक हटाना गलत है .ट्विटर की इस मामले में मंशा गलत है और वो ट्विटर के दिए गए जवाब से संतुष्ट नहीं है .

आपको ये भी बता दे की ट्विटर ने वेंक्या नायडू के अकाउंट से ही नहीं ब्लू टिक हटाया बल्कि आरएसएस के बड़े नेताओ के अकाउंट से भी ब्लू टिक हटा दिया .इस मामले को ले कर कई बन्दों की पर्तिक्रिया आई है की ये भारत के सविधान पर हमला है और इस पर एक्शन लेना चाइये .

क्या कोई भी ब्लू टिक के लिए अप्लाई कर सकते है 

इसका जवाब हा में है आने वाले कुछ दिनों में ट्विटर अपने सभी यूजर को सेटिंग में वेरिफिकेशन एप्लीकेशन के सुविधा देगा ,जब भी आप ट्विटर पर ब्लू टिक के लिए अप्लाई करेंगे तो कुछ ही दिनों में आपको अपने ईमेल पर जवाब मिल जायेंगा .इसके लिए आपको कुछ नियमो का पालन करने पड़ेंगा जैसे की सही नाम ,सही पता और साथ ही साथ फ़ोन नंबर भी देना होगा और कुछ ही दिनों में आपका अकाउंट वेरीफाई हो जायेंगा .

 

About Mohit Swami

Leave a Reply

Your email address will not be published.