Breaking News
Home / खबरे / एलन मस्क देने वाले हैं, ₹730 करोड़ रुपए जो करेंगा ये

एलन मस्क देने वाले हैं, ₹730 करोड़ रुपए जो करेंगा ये

साल 2012 में बिल गेट्स और वारेन बुफेट के जरिए शुरू की गई एक पहल द गिविंग प्लेस पर एलन मस्क ने हस्ताक्षर किया था इस पहल के अनुसार हस्ताक्षर करने वाले को अपने पूरे जीवन के अंतर्गत कम से कम कमाई की गई अपनी आधी संपत्ति दान करनी पड़ती है।

दुनिया की सबसे बड़ी और मशहूर इलेक्ट्रिक कार कंपनी  स्पेसएक्स और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने कार्बन डाइऑक्साइड को कम करने के लिए कार्बन कैप्चर टैक्नोलॉजी को प्रोत्साहित करने के लिए 10 करोड़ यूएस डॉलर यानी कि लगभग 730 करोड रुपए का बंपर की इनाम देने का फैसला किया है और इस बात का उन्होंने ऐलान भी कर दिया है। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार जलवायु के बदलाव को रोकने और प्लेनेट वॉर्मिंग उत्सर्जन को कम करने के लिए कई योजनाओं का होना जरूरी होता जा रहा है लेकिन आज की तारीख में टेक्नोलॉजी के मामले में बहुत ही कम प्रगति की गई है जिसमें की हवा से कार्बन निकलने के बजाय उत्सर्जन में कटौती करने पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जा रहा है।

दुनिया के सबसे बड़े रईस में गिने जाने वाले एलन मस्क ने विश्व भर में बढ़ती कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन को मद्देनजर रखते हुए सोशल मीडिया के द्वारा गुरुवार को ट्वीट करते हुए कहा कि मैं कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन को कम करने की सबसे बेहतरीन टेक्नोलॉजी के लिए एक हज़ारमिलियन यूएस डॉलर दान दे रहे हैं। इसके अलावा दुसरे ट्वीट में उन्होंने कहां की इस बारे में और अधिक जानकारी अगले सप्ताह तक दे देंगे।

मस्क के ट्वीट से हुई सोशल मीडिया पर खलबली

एलन मस्क के इस ट्वीट से सोशल मीडिया पर हलचल मच गई इनाम में इतनी बड़ी रकम के बारे में सुनकर लोगों के होश उड़ गई है इस ट्वीट के शेयर करने के कुछ समय बाद ही इस पर 300000 से भी ज्यादा लाइक और हजारों प्रतिक्रियाएं मिल चुके हैं ज्यादातर अरबपति लोग हैं ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने की बात कर रहे हैं।

यही वजह है कार्बन डाइऑक्साइड के बढ़ने का

अमेरिका के एक संगठन के अनुसार “वृक्ष प्रकृति का कार्बन सिंक है जो की हवा से कार्बन डाइऑक्साइड को पूरी तरह से सोख लेता है और फिर से अपने भोजन में बदल देता है अमेरिकी वन संगठन लिखते हैं कि कार्बन डाइऑक्साइड से बाहर निकाला गया कार्बन पौधे का ही एक भाग बन जाता है और यह लकड़ी के रूप में इकट्ठा किया जाता है आखिरकार जब यह पौधे या पेड़ मर जाती है तब उसमें से जमा हुआ कार्बन वायुमंडल में जारी कर दिया जाता है और इसी वजह से 1 की कटाई कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन की सबसे बड़े कारणों में से एक है।”

About Nausheen Ejaz

Leave a Reply

Your email address will not be published.